नई दिल्ली । दिल्ली समेत पूरे देश में अनलॉक-1 की शुरुआत हो गई है। ऐसे में देश में कोरोना के मरीजों की संख्या में भी लगातार वृद्धि दर्ज की गई है। दिल्ली के अस्पतालों के बेड की जानकारी देने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक ऐप भी लॉन्च की है। अब इस पर दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने भी बड़ा फैसला किया है।
अनिल बैजल ने विभिन्न अस्पतालों के बीच तालमेल बैठाने के लिए तीन अधिकारियों की नियुक्ति की है। उदित प्रकाश राज डाटा कलेक्शन के नोडल अधिकारी होंगे और प्राइवेट कोविड अस्पतालों के बीच समन्वय का काम देखेंगे। वहीं रवि धवन को केंद्रीय सरकारी अस्पताल एम्स, सफदरजंग और आरएमएल के बीच तालमेल की जिम्मेदारी दी गई है।जबकि एस एम अली दिल्ली सरकार के लोक नायक अस्पताल के डाटा को को-ऑर्डिनेट करेंगे। दिल्ली सरकार पहले ही कोरोना मरीजों से संबंधित आकंड़े छिपाने के आरोपों का सामना कर रही है। ऐसे में राज्यपाल के द्वारा तीन अधिकारियों की नियुक्त करना अपने आप में बड़ा फैसला है।दिल्ली कोरोना के जरिए कोई भी व्यक्ति ये जानकारी ले पाएगा कि किस अस्पताल में कितने बेड खाली हैं। यानी अगर किसी व्यक्ति को कोरोना से जुड़ी कुछ दिक्कतें आती हैं, तो वह तुरंत उस अस्पताल में संपर्क कर सकता है। अस्पताल में कोरोना बेड के अलावा ये ऐप वेंटिलेटर की जानकारी भी देगा।सरकार ने दिल्ली कोरोना ऐप के अलावा इसकी एक वेबसाइट भी लॉन्च की है।