लंदन । आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 की अपनी अंतिम पारी में आक्रामक बल्लेबाज क्रिस गेल नाकाम रहे। वहीं प्रशंसकों को उम्मीद थी कि गेल अपनी इस पारी में यादगार प्रदर्शन करेंगे। प्रशंसकों के बीच यूनिवर्स बॉस के नाम से लोकप्रिय गेल अपनी अंतिम पारी में केवल सात रन ही बना पाये। 37 वर्षीय यह तूफानी बल्लेबाज जब अफगानिस्तान के खिलाफ लीड्स में बल्ले के लिए उतरा तो प्रशंसकों को उनसे शानदार पारी की उम्मीदें थीं जो पूरी नहीं हो पायीं। अफगानिस्तान के गेंदबाजों के आगे वह संघर्ष करते नजर आए और 18 गेंदों का सामना करते हुए केवल एक चौका लगाकर सात रन ही बना सके। गेल को दौलत जादरान की गेंद पर इकराम अली ने कैच किया। एकदिवसीय करियर में 1119 चौके और 326 छक्के लगाने वाले क्रिस गेल ने टूर्नमेंट से पहले ही घोषणा कर दी थी कि यह उनका आखिरी विश्वकप होगा। इस विश्व कप में गेल ने 8 मैचों में 30.25 की औसत से 242 रन बनाये हैं। उनका स्ट्राइकरेट 88.32 का रहा।
पहले गेल ने कहा था कि विश्व कप खेलकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे, लेकिन बाद में उन्होंने अपने फैसले को बदल दिया। माना जा रहा है कि गेल आगामी भारत के खिलाफ सीरीज के बाद वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को अलविदा कह देंगे।