लखनऊ । बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि अदालत द्वारा कठुआ की मासूम बच्ची के गैंगरेप और हत्या मामले में तीन दरिन्दों को उम्रकैद की सजा देने के बाद संभवतः लोगों में कानून का कुछ डर पैदा हो। बसपा नेत्री मायावती ने टवीट कर कहा कि माननीय कोर्ट द्वारा कठुआ की मासूम बच्ची रेप-मर्डर केस में तीन दरिन्दों को उम्रकैद व तीन अन्य को पांच साल कैद की सजा देने के बाद संभव है लोगों में कानून का कुछ डर पैदा हो और वे दरिन्दगी से बाज आयें। उन्होंने कहा कि कानून द्वारा कानून का राज कायम करने हेतु देश में हर जगह ऐसी सजायें देना जरूरी लगता है। उल्लेखनीय है कि पंजाब के पठानकोट में कठुआ सामूहिक बलात्कार कांड के मुकदमे में अपना फैसला सुनाते हुए सोमवार को न्यायाधीश तेजविंदर सिंह ने कहा है कि इस मामले में बच्ची से सामूहिक बलात्कार और हत्या से ऐसा लगता है कि समाज में ‘‘जंगल का कानून’’ है।