रायपुर। हर साल की तरह इस वर्ष भी प्रदेश में 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूरे उत्साह और उमंग से मनाया जाएगा। राज्य सरकार ने इस संबंध में तैयारी शुरू कर दी है। इस वर्ष आयोजन से लगभग 60 लाख लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए प्रदेश में 19 जून तक राज्य स्तर से ग्राम पंचायत स्तर पर सामान्य योग अभ्यासक्रम के प्रशिक्षण द्वारा योग प्रशिक्षक तैयार किये जाएंगे। इस कड़ी की शुरूआत करते हुए आज 11 जून को राज्य संसाधन एवं पुनर्वास केन्द्र, माना कैम्प रायपुर में राज्य एवं जिला स्तरीय योग प्रशिक्षण प्रारंभ हुआ। यह प्रशिक्षण 14 जून तक चलेगा। प्रशिक्षण में सभी जिलों से प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। राज्य स्तर पर प्रशिक्षित ये मास्टर ट्रेनर अपने-अपने जिले में प्रशिक्षण देंगे।
समाज कल्याण मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया ने 10 जून को मंत्रालय में योग दिवस की तैयारियों की समीक्षा कर आयोजन में अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने और सफल आयोजन के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस पर त्वरित कार्यवाही कर सचिव इमिल लकड़ा ने योग प्रशिक्षक तैयार करने प्रशिक्षण कार्यक्रम जारी किया है। प्रशिक्षण कार्यक्रम के अनुसार 11 जून को राज्य स्तर पर प्रशिक्षण शुरू हो गया है। जिला स्तर पर 12 से 14 जून तक, विकासखण्ड स्तर पर 15 से 17 जून तक और ग्राम स्तर पर 18 एवं 19 जून को प्रशिक्षण आयोजित किया जाएगा। उन्होंने सभी जिला कलेक्टरों से योग प्रशिक्षकों की सूची मंगाई है। साथ ही स्कूल शिक्षा विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग और आयुष विभाग के सभी अधिकारियों कर्मचारियों को योग प्रशिक्षण में सम्मिलित होने के लिए निर्देशित करने कहा है।
जिला स्तरीय प्रशिक्षण के तहत सभी जिले के प्रत्येक विकासखण्ड से एक महिला और एक पुरूष प्रतिभागी शामिल होंगे। ये प्रतिभागी स्कूल शिक्षा, पंचायत एवं ग्रामीण विकास,अनुसूचित जाति एवं जनजाति विकास विभाग या अन्य विभागों से संबंधित होंगे। प्रशिक्षण हेतु योग आयोग द्वारा विकासखण्ड स्तर पर प्रशिक्षित मुख्य प्रशिक्षकों को प्राथमिकता देने कहा गया है। विकासखण्ड स्तर पर आयोजित योग प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला या विकासखण्ड स्तर के प्रशिक्षकों द्वारा प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर के कम से कम दो-दो कर्मचारी या पंचायतकर्मी को सामान्य योग का एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह प्रशिक्षण विकासखण्ड मुख्यालय पर जनपद पंचायत के सहयोग से आयोजित होगा। ग्राम पंचायत स्तर पर प्रत्येक गांव के मितानीन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, पंचायतकर्मी, शिक्षक, प्रेरक और जनसामान्य में से 10 लोगों को सामान्य योग अभ्यासक्रम का एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह प्रशिक्षण प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित किया जाएगा।