रायपुर। सांइस कॉलेज परिसर स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम में 9वीं हॉकी इंडिया सब-जूनियर बालक नेशनल हॉकी चैम्पियनशीप का आयोजन किया गया है। इस चैम्पियनशीप में पहला क्वाटर फाइनल मैच हॉकी उड़ीसा विरूद्ध मध्यप्रदेश हॉकी ऐकेडमी के मध्य खेला गया दोनों ही टीमों ने सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए मेहनत करते रहे और इस मेहनत का फल हॉकी उड़ीसा को मिला। उड़ीसा ने पौलस लकरा के दो गोल और मध्यप्रदेश के श्रेयस धोपे के दो गोल से 2-2 के स्कोर से बराबर किया। उड़ीसा ने मैच के लास्ट मिनट में रजमोन तेली के पैनाल्टी कार्नर शूट के द्वारा गोल करके अपने टीम को सेमीफाइनल में प्रवेश दिलाया।
दूसरा क्वाटर फाइनल मैच स्पोर्टस अथॉरिटी ऑफ इंडिया विरूद्ध हॉकी चंडीगढ़ के मध्य खेला गया दोनों ही टीम मध्यतंर तक कोई भी टीम गोल नही कर पाई। मध्यतंर के मैच के बाद स्पोर्टस अथॉरिटी ऑफ इंडिया के आकाश सोरेग, मोहम्मद जयद खान और अभिषेक मुंडू के तीन गोल से सेमीफाइनल में अपना जगह पक्का किया।
तीसरा क्वाटर फाइनल उत्तरप्रदेश हॉकी विरूद्ध हॉकी पंजाब के मध्य खेला गया जिसमें उत्तरप्रदेश ने 0 के मुकाबले 3 गोल से आसानी से जीत हासिल उत्तरप्रदेश के अंकित प्रजापति के दो गोल और सिद्धांत सिंग के एक गोल से विजय हासिल कर सेमीफाइनल में प्रवेश किया।
चौथा क्वाटर फाइनल मैच हॉकी हरियाणा विरूद्ध हॉकी झारखण्ड के मध्य खेला गया। दोनों ही टीमों के बीच संघर्षपूर्ण मुकाबला में हॉकी हरियाणा की ओर से तनुज सरोह ने गोल कर अपनी टीम को 0 के मुकाबले 1 गोल से बढ़त दिला दी। जिसके एवज में हॉकी झारखण्ड ने जवाब देते हुए असीम आइंड ने लगातार 2 गोल किया। मैच 1 के मुकाबले 2 गोल जीत दर्ज कर सेमीफाइनल में अपना स्थान पक्का किया।