भोपाल । राजधानी के गली- कूचों तक पहुंच कर घरों से कचरा उठाने वाले स्वच्छता वाहन मतदाताओं को मतदान का संदेश भी देंगे। ऐसे करीब 500 से अधिक स्वच्छता वाहन, भोपाल को नंबर वन बनाने वाली जिंगल के साथ साथ वोटरों को मतदान करने का संदेश भी देंगे और उन्हें पोलिंग बूथों तक पहुंचकर मतदान करने के लिए प्रेरित भी करेगी। यह निर्णय स्वीप प्लॉन प्रभारी व एडीएम सतीश कुमार एस ने लिया है। उन्होंने नगर निगम आयुक्त से इस संबंध में चर्चा भी कर ली है। जल्द ही ये गाड़ियां आम जनता के घरों का कचरा समेटने के साथ साथ मतदाताओं को जागरूक करने वाला संदेश देती नजर आएंगी।
      एडीएम सतीश कुमार ने कहा कि यह अनोखा तरीका उम्मीदवारों के प्रचार वाहनों को देखकर निकाला गया। उन्होंने बताया कि जिस तरह उम्मीदवारों के प्रचार वाहन दिन भर उम्मीदवारों के गुणगान वाले प्रचार करते हैँ, उसी तरह नगर निगम के वाहन मतदाताओं को जागरूक करने वाला संदेश भी दे सकता है। इन वाहनों की खास बात तो यह है कि यह सड़कों से लेकर आम जनता के घर और गलियों तक जा रहे हैं। ये वाहन चलते चलते और खड़े होकर भी मतदाताओं को वोट करने का संदेश देंगे। इन वाहनों को स्वच्छता के संदेश के पोस्टर के साथ साथ जिद करों वोट करो के बैनर पोस्टर भी लगाया जाएगा ताकि मतदाता इनको पढ़कर भी जागरूक हो सके।दरअसल यह कवायद भोपाल जिले में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए की जा रही है। भोपाल लोकसभा सीट के लिए इस बार 70 प्रतिशत मतदान का लक्ष्य तय किया गया है। वर्ष 2014 में 58 प्रतिशत मतदाता ही वोटिंग करने पहुंचे थे।