भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यह कहकर कि न तो कांग्रेस की सरकार बनने वाली है और न ही राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनने की संभावनाएं हैं, सच ही स्वीकार किया है। देश की जनता ने मोदी जी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने का निर्णय लिया है और वही फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराजसिंह चौहान ने सोमवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मीडिया से चर्चा के दौरान कही। 
मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान के प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए श्री चौहान ने कहा कि सच स्वीकार करने के लिए मैं उनकी प्रशंसा करता हूं, लेकिन देश में त्रिशंकु सरकार बनने वाली उनकी बात सच नहीं है। देश की जनता एक कमजोर सरकार नहीं चाहती, वह एक मजबूत और निर्णय लेने वाली सरकार चाहती है, इसलिए जनता ने मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा और एनडीए की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनाने का मन बना लिया है।
-विकास और दिग्विजय सिंह परस्पर विरोधी
श्री चौहान ने कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह द्वारा जारी किए गए भोपाल के विकास के विजन की चर्चा करते हुए कहा कि मुझे आश्चर्य हुआ कि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भोपाल के विकास का विजन दे रहे हैं, जबकि विकास और दिग्विजय सिंह दोनों विरोधाभासी बातें हैं। गड्ढे वाली सड़कें उनका विजन, बिना बिजली के अंधेरा प्रदेश उनका विजन, सूखे खेत उनका विजन, बेरोजगार युवा उनका विजन, तबाह किसान उनका विजन रहे हैं। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में 10 सालों तक मुख्यमंत्री रहने के दौरान श्री दिग्विजय सिंह ने अपना विकास का विजन कहीं नहीं दिखाया। उनका तो एक ही विजन था और वह था प्रदेश का बंटाढार। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह सिर्फ चुनाव के लिए भोपाल के विकास के विजन की बात करते हैं। उन्हें विकास करना होता तो मुख्यमंत्री रहते 10 सालों में प्रदेश का विकास करते। श्री चौहान ने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि जो कांग्रेस और दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश की तबाही के प्रतीक बने, आज वो विकास की बातें कर रहे हैं। 
कांग्रेस मुकाबले में कहीं नहीं
पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश के चुनावी परिदृश्य में कांग्रेस कहीं भी मुकाबले में नहीं है। पूरे देश में भाजपा के मुकाबले में अलग-अलग पार्टियों का गठबंधन है, जिसे मैं ठगबंधन कहता हूं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस चुनाव के पहले ही पराजय स्वीकार कर चुकी है। पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मैं यह सच स्वीकार करने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ की तारीफ करता हूं कि उन्होंने कम से कम यह सच्चाई मान ली कि प्रदेश में और देश में कांग्रेस का कोई प्रभाव नहीं बचा है।