भोपाल । बरकतउल्ला विश्वविद्यालय(बीयू) का एक पेपर फिर आउट हो गया। पेपर परीक्षा शुरु होने के पांच मिनट पहले विदिशा कॉलेज की छात्रा के वाट्सएप पर वायरल हो गया। पेपर लीक होने की घटना पर कालेज प्राचार्य ने बीयू को सूचित किया है। वहीं बीयू ने प्राचार्य को पत्र लिखकर एफआईआर दर्ज कराने को कहा है। सूत्रों की माने तो विदिशा की एक छात्रा के पास परीक्षा शुरू होने के पांच मिनट पहले उसके वाट्सएप पर पूरा पेपर आ जाता है। बीयू की वर्तमान में प्रथम और द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं चल रही है। अभी कुछ विषयों के पेपर ही हुए हैं। इस मामले को लेकर विवि ने तीन सदस्यीय कमेटी गठित की है, जो मामले की जांच कर रही है। कॉलेज प्राचार्य का कहना है कि एग्जाम शुरू होने के पहले सभी विद्यार्थियों के मोबाइल परीक्षा हॉल के बाहर स्वीच ऑफ कर रखा दिए जाते हैं। इस दौरान उनका मोबाइल चैक नहीं किया जा सकता है। इसकी सूचना मिलने के बाद छात्रा को चिन्हित कर लिया गया है। इस संबंध में बीयू को पत्र दिया गया है। 
    इससे पहले भी बीयू में पेपर लीक होने के कई मामले सामने आ चुके हैं। बीयू सभी परीक्षा केंद्रों पर एक दिन पहले पेपर भेज देता है। एग्जाम शुरू होने के 15 मिनट पेपर के पैकेट खोले जाते हैं। बीयू अधिकारियों को संदेह है कि इसी दौरान कोई पेपर की फोटो खींचकर छात्रा के मोबाइल पर वाट्सअप के माध्यम से भेज देता है। प्रकरण में जांच पड़ताल होने के बाद परीक्षा केंद्र का भी खुलासा हो जाएगा कि पेपर कहां से लीक किया जा रहा है। इस बारे में बीयू के डिप्टी रजिस्ट्रार यशवंत पटेल का कहना है कि विदिशा से एक प्राचार्य ने विवि को सूचना दी है कि एक छात्रा के मोबाइल पर पेपर लीक होने की सूचना मिली है। इस मामले में विवि ने जांच समिति गठित कर दी है। साथ ही एफआईआर करने के आदेश दे दिए हैं। मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ नियमानुसार से कार्रवाई की जाएगी।