आज 17वीं लोकसभा के लिए पहले चरण की वोटिंग हुई. पहले चरण में 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों पर मतदान संपन्न हुआ. आज 91 सीटों के 14 करोड़ से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. इनमें बिहार की 4 सीट, छत्तीसगढ़ की बस्तर सीट, पश्चिमी उत्तर प्रदेश की 8 सीट, ओडिशा की 4 सीट, असम की 5 सीट, जम्मू-कश्मीर की 2 जबकि महाराष्ट्र की 7 सीटों पर वोटिंग हुई. इसके अलावा पश्चिम बंगाल के 2 सीटों पर भी वोट डाले गए. आंध्र प्रदेश और तेलंगाना समेत 9 ऐसे राज्य जहां पहले चरण में ही चुनाव खत्म हो गया. अरुणाचल, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम, तेलंगाना, उत्तराखंड और लक्षदीप में सभी सीटों के प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई.
त्रिपुरा में 82 फीसदी वोटिंगचुनाव आयोग के मुताबिक जम्मू कश्मीर की 2 लोकसभा सीटों पर पहले चरण में वोटिंग हुई और राज्य में कुल 54.49 फीसदी वोट पड़े. यहां की बारामूला में 32.29 और जम्मू में 67.39 फीसदी के करीब वोटिंग हुई. पिछले चुनाव में 57 फीसदी के करीब वोटिंग हुई थी. नगालैंड में मतदान पूरा हुआ और यहां सिर्फ एक ही चरण में मतदान था. सिक्किम में 69 फीसदी, मिजोरम में 60 फीसदी, नगालैंड में 78 फीसदी, मणिपुर में 78.2 फीसदी, त्रिपुरा 81.8 फीसदी, असम में 68 फीसदी, पश्चिम बंगाल में 81 फीसदी वोटिंग शाम 5 बजे तक हुई है.आयोग के मुताबिक जम्मू कश्मीर में शाम 6 बजे तक 72.16 फीसदी वोटिंग हुई है.
चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि पहले चरण का मतदान शांतिपूर्ण रहा. लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण की वोटिंग 18 अप्रैल को होगी. आयोग के मुताबिक में अंडमान और निकोबार में कुल 70.67 फीसदी मतदान हुआ. छत्तीसगढ़ की बस्तर लोकसभा सीट पर 56 फीसदी मतदान हुआ. तेलंगाना में 60 फीसदी मतदान, आंध्र प्रदेश में 66 फीसदी मतदान हुआ. चुनाव आयोग के मुताबिक यह आंकड़े शाम 5 बजे तक की वोटिंग के हैं और अंतिम वोट प्रतिशत में इजाफा होगा. चुनाव आयोग ने बताया कि उत्तराखंड की सभी 5 लोकसभा सीटों पर पहले चरण में वोटिंग हुई और शाम 5 बजे तक यहां 57.85 फीसदी वोटिंग हुई है. पिछली बार यहां 62.15 फीसदी वोटिंग हुई थी.
देश के नक्सल प्रभावित इलाकों में सुबह 7 से शाम 4 बजे तक ही वोटिंग की इजाजत है. अब सिर्फ उन लोगों को वोट डालने दिया जाएगा जो पहले से कतार में लगे हुए हैं. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावति बस्तर में पोलिंग पार्टी शांतिपूर्ण मतदान कराकर वापस लौट रही हैं. छत्तीसगढ़ में हाल में वोटिंग से ठीक पहले नक्सल हमला हुआ था और यहां के कई इलाके संवेदनशील की श्रेणी में आते हैं.
पहले चरण का मतदान खत्म होने के बाद शाम 7 बजे लखनऊ में उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल वेंकेटेश्वर लू प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. इस कॉन्फ्रेंस में मतदान से जुड़ी जानकारी मुहैया कराई जाएगी. ताजा आंकड़ों के मुताबिक यूपी की बागवत सीट पर 5 बजे तक 60 फीसदी वोटिंग हो चुकी है वहीं मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट पर करीब 63 फीसदी वोट डाले जा चुके हैं. पहले चरण में पश्चिमी यूपी की 8 लोकसभा सीटों समेत देश के 20 राज्यों की 91 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. 
उत्तर प्रदेश में बसपा ने योगी सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. पार्टी ने चुनाव आयोग से शिकायत की है कि बसपा के वोटरों को यूपी पुलिस पोलिंग बूथ तक जाने से रोक रही है. बसपा की ओर से कहा गया है कि कई पोलिंग बूथों पर जहां बसपा वोटरों को, विशेष तौर पर दलितों को वोट डालने से पुलिस द्वारा रोका जा रहा है. बसपा ने आरोप लगाया कि उच्चाधिकारियों के इशारों पर पुलिस ऐसी कार्रवाई कर रही है. पार्टी ने चुनाव आयोग से तत्काल इस मामले में दखल देने की अपील की है.
नागपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार नाना पटोले ने दावा किया है कि वह नितिन गडकरी के खिलाफ बड़ी जीत हासिल करेंगे. उन्होंने कहा कि देवेंद्र फडणवीस ने जान बूझकर गडकरी को नीचा दिखाने की कोशिश की है और दोनों नेताओं के बीच विवाद चल रहा है. पटोले ने कहा कि नागपुर में गडकरी ने जो भी विकास कार्य कराएं हैं, उनसे नई समस्याएं पैदा हुई हैं. जैसे जवभराव और मेट्रो रेल ट्रैक्स में बढ़ोतर का बोझ जनता पर पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि मैंने कोई जाति कार्ड नहीं खेला.
दोपहर एक बजे तक सिक्किम में 40 फीसदी मतदान हो चुका है. इसके अलावा आंध्र प्रदेश में 41 फीसदी, लक्षद्वीप में 37.7 फीसदी, पश्चिम बंगाल में 56 फीसदी, असम में 44 फीसदी, त्रिपुरा में 53 फीसदी, मिजोरम में 43 फीसदी वोट डाले जा चुके हैं. साथ ही अरुणाचल प्रदेश में 41 फीसदी और तेलंगाना में 39 फीसदी मतदान हुआ है. उत्तराखंड में भी एक बजे तक 41 फीसदी के करीब मतदान हुआ है. उत्तर प्रदेश की 8 लोकसभा सीटों पर एक बजे तक 39 फीसदी के करीब वोटिंग हुई है. जम्मू कश्मीर की बारामूला सीट पर 35 फीसदी से ज्यादा वोटिंग हो चुकी है.
दोपहर एक बजे तक उत्तराखंड में 41.27 फीसदी, मिजोरम में 43.38 फीसदी, तेलंगाना में 38.8 फीसदी और अरुणाचल में 40.95 फीसदी मतदान हुआ. 
गठबंधन के उम्मीदवार जयंत चौधरी ने दावा किया है कि सपा-बसपा और आरएलडी मिलकर पहले चरण की सभी 8 सीटें जीतेंगे. उन्होंने कहा कि बीजेपी हताश है और अपना प्रचार भूलकर पाकिस्तान की बात कर रहे हैं. जयंत ने कहा कि बीजेपी नकारात्मक कैंपेन चला रही है. जयंत ने कहा कि हमारे गठबंधन में सभी नेता एक-दूसरे का सम्मान करते हैं और यह लड़ाई संविधान को बचाने के लिए है. उन्होंने कहा कि मैं भले ही मथुरा से हार चुका हूं लेकिन मैं वहां मौजूदा सांसद हेमा मालिनी से 10 गुना ज्यादा बार गया हूं.
उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने यूपी की 8 सीटों पर वोटिंग के बीच दावा किया है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बीजेपी को भारी बढ़त मिल रही है. कैराना और सहारनपुर में हम काफी आगे हैं, नोएडा और गाजियाबाद में एकतरफा बढ़त है, वहीं मेरठ बिजनौर में भी जीतेंगे और बागपत और मुजफ्फरनगर में भी हमारी स्थिति मजबूत है. उन्होंने कहा कि इस बार ध्रुवीकरण नहीं बल्कि पलायन के बाद हालात सुधरने का असर हुआ है जो लोग छोड़ कर गए थे वह वापस आए हैं. शर्मा ने कहा कि यह एक बड़ा मुद्दा है कानून व्यवस्था इस चुनाव में अहम भूमिका निभा रही है. हमारे पास जाट और गुर्जरों के बड़े नेता हैं और इनका असर भी है. लेकिन प्रधानमंत्री मोदी के कामकाज और विकास पर वोट मिल रहा है और लोग भारी तादाद में घरों से निकल रहे हैं.
तेलंगाना में कांग्रेस उम्मीदवार रेणुका चौधरी ने खम्मम में अपना वोट डाला. चौधरी ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि यह चुनाव जीतूंगी, उन्होंने कहा कि वह इसके लेकर काफी आशीवादी हैं.
बीजेपी सांसद संजीय बालियान के फर्जी वोटिंग के आरोपों को चुनाव आयोग ने सिरे से खारिज कर दिया है. यूपी के CEO ने बालियान के आरोपों को खंडन करते हुए कहा कि जिला निर्वाचन अधिकारी से इस मामले की जानकारी ली गई है और किसी को भी बिना पहचान कराए वोट डालने नहीं दिया जा रहा है. बालियान ने मुजफ्फरनगर के एक पोलिंग बूथ पर बुर्के की आड़ में फर्जी वोटिंग का आरोप लगाया था और आयोग से इसकी शिकायत की थी. इसके बाद बालियान के आरोपों पर चुनाव आयोग की प्रतिक्रिया आई है.
उत्तर प्रदेश के बिजनौर में 25 फीसदी वोटिंग हो चुकी है. इसके अलावा गौतमबुद्ध नगर में 24 फीसदी, नोएडा में 25 फीसदी, बागपत में 26 फीसदी, मुजफ्फरनगर में 27 फीसदी, सहारनपुर में 24 फीसदी, मेरठ में 25 फीसदी, बिहार के जमुई में 19 फीसदी, पश्चिम बंगाल में 38 फीसदी, नगालैंड 41 फीसदी, शिलांग में 27 फीसदी, मेघालय 27 फीसदी, मिजोरम में 30 और मणिपुर में 35 फीसदी वोट डाले जा चुके हैं. यूपी की कुल 8 लोकसभा सीटों पर 11 बजे तक 24 फीसदी के करीब मतदान हुआ है.
तेलंगाना की निजामाबाद लोकसभा सीट से टीआरएस ने इस बार मौजूदा सांसद कलवकुंतला कविता को चुनावी मैदान में उतारा है. वह जब आज वोट डालने पहुंचीं तो वहां मौजूद महिला मतदाताओं ने अपने क्षेत्र में सुविधाओं की कमी की शिकायत उनसे की. इस सीट पर लोगों के बीच कविता को लेकर काफी गुस्सा है, यही वजह है कि इस बार उनके खिलाफ 185 से ज्यादा निर्दलीय उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतरे हैं. कविता राज्य के मुख्यमंत्री और TRS प्रमुख के. चंद्रशेखर राव (KCR) की बेटी हैं.
पश्चिम बंगाल में 9 बजे तक 18 फीसदी मतदान हो चुका है. इसके अलावा मिजोरम में 17 फीसदी, छत्तीसगढ़ में 10.2 फीसदी, मणिपुर में 15.6 फीसदी, तेलंगाना में 10.6 फीसदी, अंडमान निकोबार में 6 फीसदी, असम में 10 फीसदी, अरुणाचल में 13 फीसदी मतदान हो चुका है. देशभर में औसतन 14 फीसदी मतदाता अपना वोट डाल चुके हैं. आज 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों पर पहले चरण के वोट डाले जा रहे हैं. इसके अलावा 4 राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए भी वोटिंग जारी है.
लोकसभा चुनाव में कैराना सीट से सांसद तबस्सुम हसन भी वोट डालने पहुंचीं. हसन ने संजीव बालियान के बयान पर कहा कि वह हमेशा से काफी बदतमीज रहे हैं. उन्हें मुस्लिम महिलाओं को बुर्का हटाकर वोट देने के लिए कहने का कोई अधिकार नहीं है. कैराना से इस बार गठबंधन की उम्मीदवार हसन ने कहा कि यह हमारी संस्कृति का हिस्सा है और किसी संदेह की स्थिति में सभी का वोटर आईडी कार्ड चेक किया जाता है. बीजेपी उम्मीदवार संजीव बालियान ने कहा था कि मुजफ्फरनगर के एक पोलिंग बूथ पर बुर्का पहने वोट डालने आईं महिलाओं की जांच नहीं की जा रही है और वहां फर्जी वोट डाले जा रहे हैं.