रायपुर। राजेंद्र नगर रिंग रोड में मिलेनियम प्लाजा स्थित दफ्तर में रविवार दोपहर चार्टर्ड अकाउंटेंट विनीत पटेल (26) ने दोस्त के लाइसेंसी पिस्टल से कनपटी में गोली मारकर खुदकुशी कर ली। गोली मारने से पहले विनीत ने मोबाइल से वीडियो भी बनाया है। घटना स्थल से पुलिस ने मृतक द्वारा लिखा गया आठ पेज का सुसाइड नोट व मोबाइल बरामद किया है। सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी से परेशान होकर खुदकुशी करने की बात लिखी है। जिस पिस्टल से विनीत ने गोली मारी, वह उनके दोस्त अवधेश दुबे की पत्नी सरिता दुबे नाम पर है।

देर शाम को घटना की सूचना मिलने पर राजेंद्र नगर पुलिस मौके पर पहुंची। इस घटना से पत्नी समेत परिवार के लोग अवाक हैं। उन्हें विश्वास नहीं हो रहा कि विनीत ऐसा आत्मघाती कदम उठा सकता है।
पुरानी बस्ती सीएसपी कृष्ण कुमार पटेल ने बताया कि मुस्कान रेसीडेंसी टिकरापारा निवासी चार्टर्ड अकाउंटेंट विनीत पटेल (26) की रिंग रोड राजेंद्र नगर स्थित अशोका मिलेनियम प्लाजा में शॉप नंबर 43 में दफ्तर है। रविवार दोपहर 3 बजे विनीत दफ्तर में अकेला बैठा था। उसने अपने दोस्त अवधेश दुबे और प्रशांत वैष्णव को फोन कर बातचीत करने दफ्तर बुलाया। अवधेश अपनी पत्नी सरिता दुबे के नाम के लाइसेंसी पिस्टल को लेकर उसे जमा करने शारदा गन हाउस टिकरापारा जाने निकला था। लेकिन विनीत के बुलावे पर प्रशांत के साथ उसके दफ्तर पहुंच गया। वहां करीब आधे घंटे तक तीनों के बीच बातचीत हुई। विनीत ने सिर पर कर्ज का बोझ बढ़ने व ग्राहकों के बकाए रकम को लेकर चिंता जताते हुए परेशान होने की बात कही।

पिस्टल मांगा और मार ली गोली
अवधेश दुबे ने पुलिस को बताया कि बातचीत के दौरान विनीत ने उससे पिस्टल मांगते हुए कहा कि एक ग्राहक से पैसा लेना है, उसे दफ्तर में बुलाया हूं। उसे डराने के लिए पिस्टल की जरूरत होगी। अगर वह पैसा नहीं देगा तो उसे पिस्टल दिखाकर धमकी दूंगा कि पैसा नहीं दिए तो खुद को गोली मार लूंगा। ऐसा करने के लिए उसने मना करते हुए पिस्टल देने से मना भी कर दिया था, लेकिन प्रशांत वैष्णव के कहने पर वापस दे दिया। इस बीच भूख लगने पर अवधेश व प्रशांत दोसा खाने पास के होटल चले गए। विनीत ने काम का बहाना बनाकर जाने से मना कर दिया था।

जीजा ने दी पुलिस को सूचना
मृतक विनीत पटेल के जीजा पुलिस मुख्यालय में पदस्थ एआइजी उमेश चौधरी ने देर शाम साढ़े छह बजे घटना की जानकारी राजेंद्र नगर पुलिस को दी। पुलिस ने शव को आंबेडकर अस्पताल भिजवा दिया है। सोमवार को शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। पुलिस ने परिवार के सदस्यों और दोस्तों का बयान दर्ज करने की जानकारी दी है। विनीत अपने पीछे दो बच्चों, पत्नी को बिलखता छोड़ गया है।

गोली की आवाज सुनकर आसपास के दुकानदार दौड़े
विनीत पटेल ने खुदकुशी करने का प्लान पहले ही बना रखा था। उसने रविवार का दिन और दफ्तर को इसलिए चुना कि अशोका मिलेनियम प्लाजा की कुछ दुकानें ही खुली रहती हैं। जिस वक्त विनीत ने खुद को गोली मारी उस समय आसपास के कुछ दुकानदार मौजूद थे, आवाज सुनते ही वे दौड़ते हुए दरवाजे तक पहुंचे। इस बीच अवधेश व अन्य के वहां आ जाने के बाद पता चला कि विनीत ने गोली मारकर खुदकुशी कर ली है।

खिड़की तोड़कर भीतर घुसे तो कुर्सी पर लहूलुहान पड़ा मिला विनीत
लक्की ट्रेडर्स के संचालक अवधेश दुबे ने बताया कि दोपहर साढ़े तीन बजे वह प्रशांत के साथ होटल से निकलकर विनीत के दफ्तर पहुंचा तो भीतर से दरवाजा बंद था। काफी आवाज देने के बाद भी दरवाजा नहीं खुला तब शंका हुई। उसके पार्टनर शर्मा जी को फोनकर वहां बुलाया। फिर खिड़की तोड़कर भीतर घुसे तो कुर्सी में लहूलुहान विनीत को पड़ा देख सभी के होश उड़ गए। उस समय उसकी सांस चल रही थी। आनन-फानन उसे रामकृष्ण केयर अस्पताल लेकर गए, जहां डाक्टरों ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। कनपटी में दागी गई गोली आर-पार हो गई थी। इस घटनाक्रम को पुलिस संदिग्ध मानकर भी जांच कर रही है। शक के घेरे में आए अवधेश दुबे व प्रशांत वैष्णव से पूछताछ की जा रही है।