इन्दौर । गणित जैसा कठिन विषय जिसकी पढ़ाई करने में लड़के भी आमतौर पर बचते हैं, उस ही विषय में दिलचस्पी लेकर कोई बड़ी उपलब्धि हासिल कर ले तो गर्व होता है। फिर उस पर भी लड़की यदि आरक्षित वर्ग की हो तो बात सामाजिक बदलाव की इशारा करती है। यही विषय लेकर दिन रात कठिन परिश्रम कर प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश की पात्रता हासिल करने पर इंदौर की बेटी आन्या चौहान का सम्मान किया गया।
प्रतिष्ठापूर्ण समारोह में संस्था स्वरम के अध्यक्ष अमोल कपोनिया ने आन्या की इस उपलब्धि को शिक्षा के प्रति समर्पण और कठोर परिश्रम का फल बताते हुए सम्मानित किया। एक निजी कंपनी में कार्यरत आन्या के पिता जितेंद्र चौहान तथा अध्यापिका माता श्रीमती कांता चौहान की होनहार बेटी आन्या चौहान की इस प्रशंसनीय ओर प्रेरणादायी उपलब्धि पर अहिरवार जाटव समाज द्वारा समाज गौरव एवं कई अन्य संस्थाओं द्वारा भी सम्मानित और पुरस्कृत किया गया। आन्या के शिक्षकों, समाजजनों, जनप्रतिनिधियों सहित अनेक लोगों ने बधाई और शुभकामनाएं दी। सम्मान के अवसर पर आन्या ने बताया कि वह मशहूर वैज्ञानिक कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स को अपना प्रेरणा स्त्रोत मानती है तथा एक उच्च श्रेणी की इंजीनियर बन कर देश व समाज का नाम रोशन करना चाहती हैं।