मुंबई । निर्वाचन आयोग के अनुसार महाराष्ट्र में 10वीं और 12वीं कक्षा के 50,000 से ज्यादा शिक्षक अब लोकसभा चुनाव से संबंधित कार्य नहीं करने वाले है। सहायक मुख्य निर्वाचन अधिकारी ए एन वल्वी ने एक सर्कुलर जारी करके 10वीं और 12वीं के शिक्षकों को चुनाव से संबंधित कार्यों से बाहर रखा है। इनकी संख्या 50,000 से ज्यादा है। महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं आयोजित की है। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के समक्ष प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षकों के एक संगठन ‘शिक्षक भारती’ ने यह मुद्दा उठाया था और कहा था कि शिक्षकों को चुनाव के कार्य में जोड़ने से इन दोनों परीक्षाओं के परिणाम आने में देर हो सकती है। कई विभागों के साथ बातचीत करने के बाद निर्वाचन अधिकारी ने इन शिक्षकों को चुनाव ड्यूटी से बाहर रखने का निर्णय लिया है। अन्य कक्षाओं के शिक्षकों को ड्यूटी से बाहर नहीं रखा गया है।