भिलाई। सेक्टर-6 निवासी एक विवाहिता ने अपने पति समेत चार लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया है। प्रार्थिया का आरोप है कि शादी के बाद से उसके ससुराल वाले उससे 30 तोला सोना, पांच लाख रुपये और एक कार की मांग करते थे। यह सभी सामान न देने पर उसे प्रताड़ित करते थे।

जब प्रार्थिया को एक बेटा हुआ और उसके ससुराल वाले भिलाई आए तो फिर से उन्होंने उसी मांग को दोहराया। जिसके बाद प्रार्थिया के पिता ने 30 तोला सोना और पांच लाख रुपये आरोपितों को दे दिया। इसके बाद भी आरोपितों ने प्रार्थिया को छोड़ दिया। इसके बाद प्रार्थिया ने आइजी ऑफिस में इसकी शिकायत की। जिस पर दोनों पक्षों के बीच काउंसलिंग कराई गई और महिला थाना पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
महिला थाना की एसआइ ज्योति सिंह ने बताया कि सेक्टर-6 निवासी प्रार्थिया विनिशा मुखर्जी शर्मा की शादी दो मार्च 2017 को मेघालय के शिलांग निवासी आरोपित जाय शर्मा के साथ हुई थी।

प्रार्थिया ने आरोप लगाया कि शादी के समय उसके पिता ने अपनी हैसियत के अनुसार ससुरालियों को नकद, गहने और सभी जरूरी सामान दिए थे। शादी के सप्ताह भर बाद ही पति जाय शर्मा, ससुर देवाशीष शर्मा, सास अनिमा शर्मा और मामा ससुर अरूप गोस्वामी ने उसे 30 तोला सोना, पांच लाख रुपये नकद और एक कार के लिए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। प्रार्थिया ने पुलिस को जानकारी दी कि उसका पति बेंगलुरु में काम करता था। वह अपने पति के साथ बेंगलुरु में शिफ्ट हो गई।
जब वह गर्भवती हो गई तो आरोपितों ने उसे मायके भेज दिया। जहां उसने एक बेटे को जन्म दिया। बेटे के जन्म के बाद उससे ससुराल वाले भिलाई आए और यहां पर भी उन्होंने 30 तोला सोना, पांच लाख रुपये नकद और एक कार की मांग की।

जिस पर प्रार्थिया के पिता ने 30 तोला सोना और पांच लाख रुपये की व्यवस्था कर आरोपितों को दिया। कार न मिलने पर वे लोग वापस लौट गए और कार मिलने पर ही प्रार्थिया को अपने साथ ले जाने की बात कही।