बहुजन समाज पार्टी(BSP)  की मुखिया मायावती(Mayawati)  ने आज कहा कि लोकसभा चुनाव में पार्टी किसी भी राज्य में कांग्रेस के साथ कोई भी चुनावी समझौता अथवा तालमेल नहीं करेगी। 

उन्होंने मंगलवार को पार्टी नेताओं के साथ बैठक की। पार्टी द्वारा जारी बयान में कहा गया कि बैठक में उन राज्यों में भी पार्टी की तैयारियों की विशेष समीक्षा की गई जिन राज्यों में बसपा पहली बार गठबंधन कर लोकसभा चुनाव लड़ रही है। बयान में कहा गया कि बैठक में एक बार फिर स्पष्ट किया गया, ''बसपा किसी भी राज्य में कांग्रेस के साथ किसी भी प्रकार का, कोई भी चुनावी समझौता अथवा तालमेल आदि कर यह चुनाव नहीं लडे़गी।''
उन्होंने कहा कि बसपा और सपा का गठबंधन दोनों तरफ से आपसी सम्मान व पूरी नेक नीयत के साथ काम कर रहा है तथा उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड व मध्य प्रदेश में यह ''फर्स्ट व परफेक्ट एलायन्स माना जा रहा है, जो सामाजिक परिवर्तन की जरूरतों को भी पूरा करता है तथा भाजपा को परास्त करने की क्षमता रखता है। मायावती ने बयान में दावा किया कि बसपा से चुनावी गठबंधन के लिये कई दल काफी आतुर हैं, लेकिन थोड़े से चुनावी लाभ के लिये ''हमें ऐसा कोई काम नहीं करना है जो पार्टी मूवमेन्ट के हित में बेहतर नहीं है।