ग्वालियर ।महानगरों के अलावा अन्य षहरों में भी कैंसर के बढ़ रहे प्रकोप देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी के मैक्स हॉस्पिटल, पटपड़गंज ने शनिवार को ग्वालियर में एक जन जागरूकता अभियान चलाया। इस अभियान का उद्देश्य बीमारी की समय पर पहचान करने, उन्नत उपचार के तौर-तरीकों, और जीवन शैली में सुधार करने के बारे में लोगों को जानकारी प्रदान करना था।
चिकित्सकों के अनुसार, भारत में पुरुषों और महिलाओं में समय से पहले मृत्यु का एक प्रमुख कारण कैंसर है। ग्लोबाकैन २०१८ के भारत के आंकड़ों के अनुसार, कैंसर के ११.५७ लाख नए मामले दर्ज किए गए, जिनमें से ११.४२ प्रतिषत मौत के लिए मुंह के कैंसर को जिम्मेदार ठहराया गया। 

 पत्रकारों से चर्चा के दौरान मैक्स सुपर स्पेषियलिटी हॉस्पिटल पटपड़गंज के सिर एवं गर्दन के कैंसर की सर्जरी के सीनियर कंसल्टेंट डॉ. शुभम गर्ग ने कहा, ‘‘सिर और गर्दन से संबंधित जटिलताओं की शिकायत करने वाले रोगियों की संख्या में वृद्धि हुई है जिसमें मस्तिष्क, तंत्रिका तंत्र, ओरल कैविटी, थायरॉयड, इसोफेगस, फैरिंक्स और लार ग्रंथियां शामिल हैं। जागरूकता की कमी के कारण लोग आमतौर पर शुरुआती लक्षणों की उपेक्षा करते हैं और अक्सर बीमारी के एक उन्नत चरण में अस्पताल पहुंचते हैं। कैंसर के इलाज और जीवन षैली में थोड़ा सा बदलाव करके और स्व-परीक्षण से इसे रोकने के तरीकों को समझना और जागरूकता कायम करना महत्वपूर्ण है।
अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी, विशेष नैदानिक दृष्टिकोण और उच्च स्तरीय निदान क्षमताओं में सर्वश्रेष्ठ होने के नाते, मैक्स हेल्थकेयर यहां तक कि कैंसर के सबसे अधिक सूक्ष्म रूपों की पहचान करने की सुविधाओं से लैस है और साथ ही अत्यधिक गंभीर मामलों का इलाज करने में भी पारंगत है। मैक्स हेल्थकेयर के पास १४ अस्पतालों का नेटवर्क और आधुनिकतम उपचार क्षमता है जो अत्यंत व्यापक स्वास्थ्य सेवा प्रदान करती है।