ग्वालियर  सितम्बर माह में वर्षगांठ समारोह में गुर्जर समाज के द्वारा हर्ष फायर करने पर आज वर्षगांठ के आयोजक छत्रपाल सिंह गुर्जर ने देवनारायण धाम सिरसा घाटीगांव में संत शीतलदास महाराज के सामने 11000 रुपए का जुर्माना भरा। वहीं इस अवसर पर शीतलदास महाराज ने 54 गांव के करीब 50000 लोगों को शादी समारोह, वर्षगांठ सहित विभिन्न आयोजनों में हर्ष फायर नहीं करने का संकल्प दिलाया। वहीं गुर्जर समाज ने हाथ खड़े कर संकल्प लिया कि वह हर्ष फायर नहीं करेंगे।

उल्लेखनीय है कि 28 सितम्बर 2018 को छत्रपाल सिंह गुर्जर की वर्षगांठ थी। वर्षगांठ के दौरान वहां पर 5 हर्षफायर किए गए थे। इससे पूर्व संत शिरोमणी हरिगिरी महाराज ने गुर्जर समाज से अपील करते हुए कहा था कि हर्ष फायर को पूर्णरूप से बंद किया जाए। और जो भी हर्षफायर करेगा उस पर 11000 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। छत्रपाल के वर्षगांठ समारोह में हर्ष फायर किए गए। इसके चलते 1 फरवरी को छत्रपाल पर 11000 का जुर्माना लगाया गया। पहली बार जुर्माना वसूलने से पहले शीतलदास महाराज ने देवनारायण मंदिर पर मौजूद लोगों से कहाकि आप 11000 का जुर्माना वसूलने के लिए तभी खड़े हो जब आप सभी प्रण और संकल्प कर लें कि आप भी कभी हर्ष फायर नहीं करोगे। अगर किसी ने भी हर्ष फायर किया तो उस पर भी 11000 का जुर्माना लगाया जाएगा । इसके बाद सभी ने हाथ उठाकर संकल्प लिया कि वह कभी भी हर्ष फायर नहीं करेंगे।