नई दिल्ली: भारतीय मूल के अमेरिकी इंजीनियर संजय रामभद्रन को एक गैरलाभकारी संस्था 'टेक्सास लिसीयम' का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है. यह संस्था टेक्सास में अगली पीढी के नेताओं को तैयार करने पर ध्यान देती है.

रामभद्रन इस पद पर नियुक्त होने वाले पहले विदेशी मूल के व्यक्ति हैं. उन्होंने आस्टिन के 'टेक्सास कैपीटोल' में 'टेक्सास प्रतिनिधि सभा' में संस्था के 2019 के लिए अध्यक्ष पद की शपथ ली.

रामभद्रन ने कहा कि 2019 'टेक्सास लिसीयम' का टेक्सास को सेवाएं देने का 40वां साल है. उन्होंने कहा, 'मैं टेक्सास के युवा नेताओं के विविध समूह को एकसाथ लाने के समृद्ध इतिहास वाली इस अद्वितीय संस्था का नेतृत्व करने में सम्मानित महसूस कर रहा हूं. 


युवा नेता हमारे प्रांत की लोक नीति की चुनौतियों पर गौर करेंगे और इन चुनौतियों के संभावित समाधान के लिए चर्चा करेंगे'. रामभद्रन मूलत: दक्षिण भारत के रहने वाले हैं और उन्होंने बिट्स पिलानी से स्नातक की पढाई की. आगे की शिक्षा उन्होंने टेक्सास ए एंड एम विश्वविद्यालय में की.