ग्वालियर। मध्यप्रदेश के युवाओं को रोजगार के ज्यादा से ज्यादा अवसर मुहैया कराने के लिए प्रदेश सरकार ने कारगर कदम उठाए हैं। सरकार ने बेरोजगारों को साल भर में 100 दिन के रोजगार के रूप में 4 हजार रूपए प्रतिमाह आर्थिक मदद देने का क्रांतिकारी निर्णय लिया है। यह बात विधायक मुन्नालाल गोयल ने कही। गोयल जिला स्तरीय कैरियर अवसर एवं रोजगार मेला के उदघाटन कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता महापौर विवेक नारायण शेजवलकर ने की। उन्होंने कहा स्वरोजगार के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं, जरूरत दृढ़ संकल्प के साथ आगे बढ़ने की है। 
शिक्षित युवाओं को नौकरी और स्वरोजगार मुहैया कराने के मकसद से शुक्रवार को शासकीय आदर्श विज्ञान महाविद्यालय परिसर में दो दिवसीय जिला स्तरीय कैरियर अवसर एवं रोजगार मेला शुरू हुआ। मेले के उदघाटन अवसर पर कलेक्टर भरत यादव, आदर्श विज्ञान महाविद्यालय के प्राचार्य बी.एल. अहिरवार, नेवल ऑफीसर संजय जांबियाल व बीएसएफ के अधिकारी अशोक कुमार यादव मंचासीन थे। जिला स्तरीय रोजगार मेले मे निजी क्षेत्र की जानी-मानी डेढ़ दर्जन कंपनियां शिक्षित बेरोजगारो को नौकरी देने के लिये आई हैं। साथ ही युवाओं के कैरियर मार्गदर्शन और स्वरोजगार के अवसर मुहैया कराने के लिये दो दर्जन से अधिक विभागों द्वारा प्रदर्शनी व स्टॉल लगाए गए हैं। रोजगार मेले का आयोजन जिला प्रशासन, नगर निगम, जिला पंचायत व आदर्श विज्ञान महाविद्यालय द्वारा अन्य विभागों के सहयोग से दीनदयाल अंत्योदय योजना व राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत किया गया है। 
विधायक मुन्नालाल गोयल ने कहा प्रदेश सरकार ने पहल की है कि प्रदेश में 70 प्रतिशत नौकरियां मध्यप्रदेश के मूलनिवासी युवाओं को मिलें। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि यह दो दिवसीय रोजगार मेला युवाओं के लिए अत्यंत लाभकारी साबित होगा। 
महापौर विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि युवा अपनी रूचि का कैरियर चुनें, जिससे सफलता मिले। उन्होंने कहा युवा सक्षम बनकर परिवार, समाज और देश के ऋण को अदा करें। 
इस मौके पर अतिथियों ने राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत चयनित स्वरोजगारियों को ई-रिक्शा की चाबियां सौंपी। साथ ही स्वरोजगारमूलक योजना के तहत विभिन्न हितग्राहियों को स्वरोजगारमूलक गतिविधि के लिये आर्थिक सहायता के चैक सौंपे। कार्यक्रम का संचालन डॉ. नीलिमा भटनागर ने किया। इस अवसर पर मेले के समन्वयक बीपीएस जादौन भी मौजूद थे। 
कलेक्टर यादव के प्रेरणादायी उदबोधन से युवा विद्यार्थी हुए अभिभूत 
जिला स्तरीय कैरियर अवसर एवं रोजगार मेले में कलेक्टर भरत यादव ने लक्ष्य निर्धारित कर पूरे मनोयोग के साथ उसे हासिल करने के लिए युवाओं का आहवान किया। उन्होंने जब छोटे से गाँव के एक साधारण लड़के के आईएएस अफसर बनने की सच्ची कहानी अपने  प्रेरणादायी उदबोधन में बयां की तो बड़ी संख्या में मौजूद युवा अभीभूत हो गए। साथ ही उनमें आगे बढ़ने के लिए नई ऊर्जा का संचार हुआ। यह सच्ची कहानी उनके स्वयं के जीवन पर आधारित थी। यादव ने अपने आईएएस बनने तक के सफर पर प्रकाश डालते हुए कहा कि दतिया जिले के छोटे से गाँव उदगवां में उन्होंने प्राथमिक शिक्षा ग्रहण की। इसके बाद नवोदय स्कूल से 10वीं परीक्षा उत्तीर्ण की और फिर रेलवे के वोकेशनल कोर्स के लिए उनका चयन हुआ। यहाँ से 12वीं परीक्षा पास करने के बाद रेलवे में टीसी की नौकरी की। ग्वालियर में अपनी सात साल की टीसी की नौकरी के दौरान ही उन्होंने स्वाध्यायी छात्र के रूप में जीवाजी विश्वविद्यालय से स्नातक और स्नातकोत्तर की उपाधि हासिल की। ग्वालियर में पदस्थापना के दौरान ही उनका चयन भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में हुआ। कलेक्टर यादव ने विद्यार्थियों से कहा कि लगन और मेहनत के आगे कोई भी लक्ष्य कठिन नहीं है। उन्होंने कहा कि अपनी रूचि निर्धारित करें और कैरियर मेले का लाभ उठाकर अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए आगे बढ़ें। प्रयास ऐसे हों कि हम रोजगार लेने वाले नहीं, रोजगार देने वाले बनें। कलेक्टर ने रोजगार मेले में लगे सभी स्टॉल का जायजा लिया। उन्होंने सभी युवाओं से लोकसभा निर्वाचन के दौरान मतदान में हिस्सा लेने का आह्वान भी किया।         
मेले में ये कंपनियाँ आई हैं नौकरी देने 
फ्रीडम इंग्लिश एकेडमी दिल्ली, शिवशक्ति बायो टेक्नोलॉजी लिमिटेड बड़ोदरा, सोडेक्सो ऑनलाईट सर्विस इंडिया प्रा.लि., विंध्या टेलीलिंक लिमिटेड एमपी. बिरला ग्रुप, कार्वी डाटा मैनेजमेंट सर्विस ग्वालियर, गिन्नी फ्लामेन्ट्स ग्वालियर, शिवशक्ति बायो टेक्नोलॉजी लिमिटेड सागर, चैकमेट सर्विस प्रा. लि., ग्रो फास्ट ऑर्गेनिक डायमंड प्रा.लि. सागर, रिलायंस निप्पो लाईफ इंश्योरेंस, श्रीराम फोर्च्यून सोल्यूशन लिमिटेड, स्टार हैल्थ, एसबीआई लाईफ इंश्योरेंस ग्वालियर, आईटी सोल्यूशन प्रा.लि. मयूर नगर ठाठीपुर व पॉलिसी बाजार डॉट कॉम इत्यादि ।  
इन विभागों की लगी हैं प्रदर्शनियां व स्टॉल 
बीएसएफ, नेवल, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, स्वामी विवेकानंद कैरियर मार्गदर्शन, वीआरजी कॉलेज मुरार, खादी ग्राद्योग, मत्स्य, सेंट्रल बैंक, आईटीआई, शहरी आजीविका मिशन, निर्वाचन कार्यालय, नगर निगम, सीपैट, रोजगार कार्यालय, जनसंपर्क, यातायात पुलिस, कृषि, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना इत्यादि ।