सिर्फ सेक्स से पहले की ही तैयारियां अहमियत नहीं रखतीं बल्कि सेक्स के बाद भी आपको कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए और उनमें सबसे अहम है सेक्शुअल हाइजीन। इंटरकोर्स की वजह से किसी भी तरह के इंफेक्शन का खतरा न रहे इसके लिए आपको हाइजीन यानी साफ-सफाई से जुड़ी कुछ बातों को अपनी आदत में शुमार कर लेना चाहिए। लोग सेक्स के बारे में जितना जानते हैं, दुर्भाग्यवश सेक्शुअल हाइजीन के बारे में उतना ही कम जानते हैं जिस वजह से यूटीआई यानी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन का खतरा मेल और फीमेल दोनों ही पार्टनर को बना रहता है। 
हाइजीन से समझौता करने पर इंफेक्शन का खतरा 
पोस्ट सेक्स आप दोनों को कितना ही आलस क्यों न महसूस हो रहा हो, कितनी ही नींद क्यों न आ रही हो लेकिन अगर आप हाइजीन से समझौता करेंगे तो आपको इंफेक्शन होने की आशंका बढ़ जाएगी। आपकी सेक्स लाइफ अच्छी बनी रहे और किसी तरह की बीमारी या इंफेक्शन का खतरा न हो इसके लिए हम आपको बता रहे हैं कुछ जरूरी बातें जिनका ध्यान आपको जरूर रखना चाहिए... 

हैंड वॉश करें 
सेक्स से पहले और सेक्स के बाद अच्छी तरह से हैंड वॉश करना भी बेहद जरूरी है कि क्योंकि बैक्टीरिया और कीटाणु आमतौर पर हमारे हाथों से ही फैलते हैं। सेक्स के दौरान अक्सर हम अपना या पार्टनर का जेनिटल एरिया पेनिट्रेट करने के लिए हाथों का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में अगर आपके हाथ गंदे होंगे तो प्राइवेट पार्ट में बैक्टीरिया ट्रांसफर होने का खतरा बना रहेगा। लिहाजा सेक्स से पहले और इंटरकोर्स के बाद हाथों को अच्छी तरह से रगड़कर साफ करें। 
प्राइवेट पार्ट की सफाई 
सेक्स के बाद अपने प्राइवेट पार्ट की सफाई करना भी बेहद जरूरी है। किसी भी तरह के बैक्टीरिया को फैलने से रोकने के लिए बेहद जरूरी है कि इंटरकोर्स के बाद पानी से प्राइवेट पार्ट की सफाई की जाए। आप चाहें तो पानी के साथ माइल्ड साबुन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन अगर आपकी स्किन सेंसेटिव है तो आपको इरिटेशन की समस्या हो सकती है। 

सिंपल क्लीनिंग 
प्राइवेट पार्ट की सफाई के लिए फैंसी लोशन या परफ्यूम का इस्तेमाल करने की बजाए सिंपल गुनगुने पानी से क्लीनिंग पर ध्यान दें। हार्श साबुन, डिटरजेंट, परफ्यूम, लोशन, सेंटेड टैम्पून और स्प्रे जैसी चीजें आपकी नाजुक स्किन को नुकसान पहुंचा सकते हैं और इंफेक्शन का रिस्क बढ़ सकता है। 

वॉशरूम यूज करें 
पार्टनर संग इंटरकोर्स के बाद जब आप बाथरूम में क्लीनिंग के लिए जाएं तो टॉइलट करना न भूलें। इसका मकसद यह है कि आपका ब्लाडर खाली होना चाहिए क्योंकि अगर सेक्स के दौरान किसी तरह का बैक्टीरिया आपके यूरेथ्रा तक पहुंच गया होगा तो टॉइलट करने के दौरान वह शरीर से बाहर निकल जाएगा। आप चाहें तो सेक्स के बाद 1 गिलास पानी भी पी सकते हैं।