तिरुवनंतपुरम । कांग्रेस नेता शशि थरूर ने केरल के उन मछुआरों की नोबेल शांति पुरस्कार के लिए अनुशंसा की है, जिन्होंने 2018 में राज्य में आई बाढ़ के दौरान बचाव कार्यों में मदद की थी। तिरुवनंतपुरम से सांसद थरूर ने नॉर्वे की नोबेल समिति के अध्यक्ष को पत्र लिख कर यह मांग की है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि केरल के मछुआरों का समूह त्रासदी के दौरान अपनी जान और अपनी जीविका के साधन नौकाओं की परवाह किए बिना नागरिकों को बचाने के काम में जुट गया। थरूर ने कहा कि मछुआरे अपनी नौकाओं को अंदरूनी इलाकों में ले गए और स्थानीय स्थितियों की बेहतर जानकारी होने के वजह से राहत कार्य में उनकी हिस्सेदारी काफी सहायक साबित हुई। उन्होंने कहा कि मछुआरों ने आस-पड़ोस में फंसे हुए कर्मियों की न सिर्फ सहायता की बल्कि बचाव टीमों की नौकाओं को रास्ता भी दिखाया। उन्होंने कहा कि उनकी बाढ़ के दौरान लोगों की जान बचाने की सेवा स्पष्ट तौर पर दिखी।