ऑर्गेज्म यानी सेक्स के दौरान चरम संतुष्टि की स्थिति। महिलाओं और पुरुषों में ऑर्गेज्म व उसकी स्टेज तक पहुंचने का वक्त, तरीका अलग-अलग होता है। ऑर्गेज्म को वैसे तो एक अद्भुत अहसास माना जाता है, लेकिन कुछ ऑर्गेज्म ऐसे भी होते हैं जो काफी दर्दनाक और अजीबोगरीब किस्म के होते हैं। इन ऑर्गेज्म के बारे में आपने सुना भी नहीं होगा। आइए जानते हैं इनके बारे में:
कई लोगों में यौन संबंधों के बाद सिरदर्द होने लगता है। इस तरह की स्थिति को कॉइटल सिफेलजिया (coital cephalgia) भी कहते हैं। इस तरह का सिरदर्द या तो ऑर्गेज्म से पहले या फिर ऑर्गेज्म के दौरान होता है।
ऑर्गेज्म सिर्फ सेक्स के दौरान ही नहीं होता बल्कि कई अन्य परिस्थितियों में भी ऑर्गेज्म मिलता है। जैसे कि फुट ऑर्गेज्म सिंड्रोम। साल 2013 में एक महिला में नॉन वजाइनल ऑर्गेज्म का केस सामने आया था। इस महिला को पैर में लगातार ऑर्गेज्म की स्थिति महसूस हो रही थी। जब डॉक्टरों ने इस महिला का परीक्षण किया तो पाया कि उसके पैरों और गुप्तांग की नर्व्स एक ही पॉइंट पर स्पाइनल कॉर्ड में पहुंच गईं यानी उसके नर्वस सिस्टम में कुछ नसों की क्रॉस वायरिंग हो गई, जिसकी वजह से ऐसा हुआ।
लगातार होने वाले ऑर्गेज्म के बारे में सुनकर भले ही आपको अच्छी फीलिंग आए, लेकिन जिन महिलाओं में यह कंडिशन देखी गई उन्होंने इसी किसी नरक से कम नहीं बताया। नॉन स्टॉप ऑर्गेज्म यानी वह स्थिति जिसमें लगातार ही ऑर्गेज्म हो उसे पर्सिस्टेंट जिनाइटल अराउज़ल डिसऑर्डर कहते हैं। इसकी कई वजहें हो सकती हैं। जैसे कि टाइट लेगिंग्स या पेंट पहनना, कार चलाना या फिर घंटों तक बैठे रहना। 
कई महिलाओं को बिल्कुल भी ऑर्गेज्म फील नहीं होता और इसी स्थिति को 'नो ऑर्गेज्म' कहा जाता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, करीब 15 फीसदी महिलाओं को ऑर्गेज्म का बिल्कुल भी अहसास नहीं होता। इसकी कई वजहें हैं, जैसे कि स्ट्रेस, टेंशन, डिप्रेशन या फिर किसी रिलेशनशिप में इन्वॉल्व न रहना आदि।