भोपाल । जिला के किसानों का मुख्यमंत्री फसल ऋ ण माफी योजना के अंतर्गत लोन माफ करने के लिए कल जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति का गठन कर दिया गया। समिति में जिले के प्रभारी मंत्री अध्यक्ष एवं कलेक्टर उपाध्यक्ष रहेंगे। उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विभाग संयोजक व लीड बैंक अधिकारी सहसंयोजक रहेंगे। क्रियान्वयन समिति में प्रभारी मंत्री द्वारा नामांकित 4 जनप्रतिनिधि गण, अतिरिक्त कलेक्टर राजस्व, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, उप संचालक उद्यानिकी, उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं, अधीक्षक भू-अभिलेख, जिला सूचना अधिकारी एनआईसी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक एवं सहायक आयुक्त आदिवासी विकास सदस्य रहेंगे। इसके अलावा 251 नोडल अधिकारी और 362 सहायक बनाए गए हैं। इस तरह शहर के करीब 60 हजार किसानों की कर्जमाफी के लिए 613 अधिकारियों-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इस योजना के तहत चिन्हित कर किसानों की सूची इसी माह ग्राम पंचायत के सूचना पटल पर चस्पा की जाएगी। 
    सूची प्रकाशन के बाद आधार कार्ड लिंक होने वाले किसानों से हरे रंग के आवेदन पत्र तथा गैर-आधार कार्ड लिंक किसानों से सफेद रंग के आवेदन पत्र ग्राम पंचायत में सूची चस्पा होने के बाद ग्राम पंचायत कार्यालय में ऑफ-लाइन प्राप्त किए जाएंगे। प्रत्येक ऑफलाइन आवेदन पत्र जमा करने की रसीद ग्राम पंचायत या संबंधित नगरीय निकाय द्वारा आवेदक को दी जाएगी। सहकारी बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक तथा राष्ट्रीयकृत बैंक से फसल ऋ ण लेने वाले किसानों को अधिकतम 2 लाख रुपए की सीमा तक पात्रतानुसार लाभ दिया जाएगा। उपसंचालक कृषि एमएच देवके ने बताया कि इस योजना के तहत उन किसानों को ऋ ण माफी का लाभ प्राथमिकता से दिया जाएगा, जिनके बैंक खाते, आधार कार्ड से जुड़े हैं। उन्होंने किसानों से अपील की है कि वे हर हाल में अपने बैंक खाते 15 जनवरी तक आधार नंबर से जुड़वा लें।