छतरपुर। जैसे-जैसे मतदान की तिथि नजदीक आ रही है, राजनैतिक माहौल भी बदलने लगा है अभी तक लोग खुलकर सामने नही आ रहे थे लेकिन अब वक्त बदलाव का नजर आ रहा है। छतरपुर विधानसभा की बात की जाए तो यहां पर विधायक के रूप में दो पार्टियां कांग्रेस और भाजपा रही है हालांकि बेहतर प्र्रत्याशी के खड़े होने पर जनता द्वारा उन्हे भी विधायक बनाकर विधानसभा पहुंचाया गया। इस बार भी स्थिति कुछ ऐसी ही नजर आ रही है। बहुजन समाज पार्टी से छतरपुर सीट के लिए उम्मीदवार के रूप में अब्दुल समीर भैया ठेकेदार की घोषणा होने के बाद ही क्षेत्र में राजनीति की दशा और दिशा में बदलाव होना शुरू हो गया था, जोकि अब स्पष्ट रूप से दिखने लगा है। बसपा प्रत्याशी अब्दुल समीर को जनसंपर्क के दौरान जनता द्वारा जो असीम स्नहे और आर्शीवाद दिया जा रहा है, उससे सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि इस बार जनता कुछ अलग ही मूड में नजर आ रही है। बसपा प्रत्याशी के पक्ष में एक विशेष वर्ग नही बल्कि सभी वर्ग के लोग सहयोग और समर्थन कर रहे है।
मंगलवार को अब्दुल समीर द्वारा अपने जनसंपर्क का आगाज नारायणपुरा मार्ग से किया गया और नट पुरवा पहुंचे यहां पर लोगों द्वारा उनका गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया। दर्जनों महिलाओं जिनकी समय-समय पर अब्दुल समीर जो कि अपने साथ समाजसेवी की छवि भी रखते है के द्वारा मदद की गई थी उन महिलाओं द्वारा कई समस्याएं बताई गई जिसे हल का कराने का आश्वासन देते हुए श्री समीर ने कहा कि पद अपनी जगह है मैंने हमेशा मजलूमों और असहायों की मदद की है वह जारी रहेगी। आप आर्शीवाद दें मैं वायदा करता हूं कि इस कदर क्षेत्र में विकास की गंगा बहाई जाएगी कि आपको अपनी समस्या लेकर किसी भवन या फिर हादस जाने की जरूरत नही पड़ेगी आपका ये भाई हमेशा आपके सुख और दुख में आपके साथ खड़ा नजर आएगा। इसके बाद अब्दुल समीर शहर के वार्ड क्रमांक 40 में जनसंपर्क करते हुए टौरिया मुहल्ला पहुंचे, जहां पर लोगों द्वारा श्री समीर के स्वागत कुछ अलग ही अंदाज में किया गया। कहीं तिलक लगाया गया तो कहीं माला पहनाई गई, मंगलवार के जनसंपर्क में सबसे प्रिय दृश्य वह रहा जब एक गरीब घर में रखी मिठाई थाली में सजाकर अब्दुल समीर के पास आ गई और बोली भैया आप इस गरीब बहिन के हाथ से मुंह मीठा करो और जीतने के बाद मेरा मुंह मीठा कराने मेरे घर जरूर आना।