छतरपुर-बहुजन समाज पार्टी के छतरपुर विधानसभा क्षेत्र के लोकप्रिय प्रत्याशी अब्दुल समीर उर्फ भैया ठेकेदार के पक्ष में माहौल पूर्णत: बन गया है, उनके चुनावी दौरों और जनसंपर्क के दौरान मिल रहे जनसमर्थन के कारण अन्य प्रत्याशियों की नींद उड़ गई है। वहीं राजनीति के जानकारों के मुताबिक कई सालों बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि जिस पार्टी का प्रदेश में कोई वजूद नही है उस पार्टी के उम्मीदवार सत्ताधारी पार्टी और सत्ता के दूसरे विकल्प को सीधा टक्कर दे रहा है और उसकी वजनदारी कहीं ज्यादा नजर आ रही है। शहरी लोगों के साथ ग्रामीणों का भी भरपूर समर्थन मिलने के कारण इस बार के चुनाव नतीजे बहुजन समाज पार्टी की झोली में जाता नजर आ रहा है।
बसपा प्रत्याशी अब्दुल समीर भैया ठेकेदार समाजसेवी के रूप में जाने जाते है, जब भी किसी पीडि़त को उनकी मदद की जरूरत हुई और उन तक खबर पहुंची, तो उनके द्वारा नि:स्वार्थ भाव से भरपूर मदद की गई। बीमारीे से लेकर निर्धन बच्चियों की शादी के लिए अब्दुल समीर द्वारा मदद की गई। धार्मिक आयोजनों में भी उनके द्वारा कौमी एकता की मिशाल देकर शहर की जनता का दिल जीता गया है। किसी भी धर्म का आयोजन हो उनके द्वारा अपने स्तर पर उनका स्वागत व सम्मान किया गया। अब्दुल समीर भैया महिलाओं के बीच भी भाईजान के नाम से काफी मशहूर है, इस ईद उनके द्वारा शहर की उन महिलाओं को साडिय़ां व सिमई बांटी भी गई। 
शनिवार को अब्दुल समीर द्वारा शनिवार को निवारी, बारी, ललनजू का पुरवा, खौंप, श्यामरा सहित आधा दर्जन से ज्यादा ग्रामों में जाकर जनसंपर्क किया गया। इस दौरान उन्होने कहा कि बसपा सर्वजन सुखाए और सर्वजन हिताय की पार्टी है, बसपा की नीति में जनता का शोषण करना नही है बल्कि विकास का दूसरा नाम बसपा है और मैं वायदा करता हूंं कि जिस तरह से पीडि़त मानवता की सेवा की है उसे अनवरत रूप से जारी रखूंगा और आप आर्शीवाद देकर भोपाल भेजे मैं ऐसी व्यवस्था बनाऊंगा कि किसान, ग्रामीणों को अपना काम कराने के लिए अधिकारियों के चक्कर न काटना पड़े बल्कि गांव में ही काम हो जाएं। जनसंपर्क के दौरान अंशुल साहू, सुरेश कुमार, तेजपाल, धीरज, मोनू  खान, गोलू द्विवेदी, गुड्डू सेनी, चन्द्र प्रकाश अहिरवार, बिल्लू भैया, संतोष, कैलाश, शहजाद खान सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता व समर्थकों का काफिला मौजूद रहा।