छतरपुर। जिनकी नियत में खोट होती है वे षड़यंत्रों का सहारा लेते हैं। हम षड़यंत्रों के सहारे नहीं बल्कि अपने काम के बलबूते पर चुनाव जीतेंगे। इस चुनाव में एक तरफ वो हैं जिन्होंने अपने परिवार को ही षड़यंत्र का शिकार बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी और एक तरफ आपकी यह जनसेवक जिसने छतरपुर को विकसित शहरों की श्रेणी में लाकर खड़ा किया है। भाजपा का कार्यकर्ता संस्कारित कार्यकर्ता है हमारे साथ हजारों संस्कारित कार्यकर्ताओं की फौज है। जो हमारा सबसे बड़ा संबल है। उक्त उदगार नगर पालिका अध्यक्ष एवं छतरपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक पद की उम्मीदवार अर्चना गुड्डू सिंह ने आज वार्ड क्रमांक 32 में अपने भ्रमण के दौरान व्यक्त किये।
भाजपा उम्मीदवार अर्चना गुड्डू सिंह पिछले एक सप्ताह से पूरे क्षेत्र में जनसंपर्क कर एक-एक मतदाता के पास पहुंचने का प्रयास कर रही हैं। परिणाम स्वरूप आज उनके पक्ष में एक तरफा माहौल निर्मित हो गया है और कांग्रेस पूरी तरह से अलग-थलग पड़ गई है। अर्चना सिंह का संयुक्त परिवार कांग्रेस उम्मीदवार के बिखरे परिवार पर भारी पड़ता नजर आ रहा है। श्रीमती सिंह ने शुक्रवार को अपने भ्रमण की शुरूआत वार्ड नम्बर 32 से की। यहां महिलाओं ने उनका आत्मिक स्वागत किया और कहा कि हमें अर्चना सिंह जैसा जनप्रतिनिधि चाहिए जो छतरपुर में विकास की अविरल धारा प्रवाहित करने में सक्षम है। वार्ड क्रमांक 32 के मतदाताओं से रूबरू होने के बाद अर्चना गुड्डू सिंह ग्राम कदारी और बृजपुरा में पहुंचे जहां ग्रामीणों ने उनका अभूतपूर्व स्वागत किया और तुलादान किया। अर्चना सिंह ने अपने 9 वर्षों  के कार्यकाल में छतरपुर में विकास के जो काम किये हैं। उसे कांग्रेस पचा नहीं पा रही है इसलिए अनर्गल आरोप और षड़यंत्रों को सहारा लेकर चुनाव मैदान में है। मुद्दा विहीन कांग्रेस के पास जनता को बताने के लिए कुछ भी नहीं है क्योंकि पूर्व में लगभग 60 वर्ष तक नगर पालिका से लेकर प्रदेश और केन्द्र में कांग्रेस की सरकारे रहीं पर उन्होंने जनता के लिए कुछ नहीं किया और अपना घर भरने में लगे रहे।